Items filtered by date: Monday, 15 January 2018

आवाज़, 15 जनवरी(संजीत खन्ना, झज्जर): इनेलो सांसद दुष्यन्त चौटाला ने प्रदेश के कृषि मंत्री ओम प्रकाश धनखड़ पर तंज कसते हुए कहा है कि प्रदेश सरकार में बैठे जो लोग गाय की सेवा करने की बात कह रहे है वास्तव में उनके घरों में ही गाय नहीं बंधी है। ऐसे में उन्हें क्या मालूम कि गाय की क्या सेवा होती है और सेवा जैसा पुणित कार्य क्या है। गौरतलब है कि दुष्यंत चौटाला सोमवार को झज्जर में पार्टी कार्यकर्ताओं को सम्बोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि सरकार में बैठे मंत्री खिलाडिय़ों को प्रोत्साहित करने के रूप में बगैर दूध देने वाली गाय दे रहे है। अब उन लोगों से कौन पूछे की बगैर दूध देने वाली गाय कैसे खिलाडिय़ों में दम-खम भरेगी और खिलाडियो पर आर्थिक बोझ भी बढेगा। उन्होंने यह भी कहा कि प्रदेश की भाजपा सरकार ने सत्ता में आने से पहले गाय व बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओं का नारा दिया था। लेकिन इस राज में न तो गाय सुरक्षित है और न ही बेटी। जब बेटी सुरक्षित हीं नहीं रहेगी तो फिर वह पढ़ेगी कैसे। उन्होंने सीएम मनोहर लाल खट्टर पर भी बेटियों की सुरक्षा के लिए सीरियस न रहने का आरोप लगाया।

उन्होंंने कहा कि प्रदेश सरकार का पुलिस पर कंट्रोल नहीं है। वह यह बात अब लोकसभा में भी उठाने वाले है। प्रदेश में आए दिन कहीं न कहीं पर बेटियों से बलात्कार जैसी घिनौनी वारदात होने की बात दुष्यन्त चौटाला ने कही। प्रदेश सरकार द्वारा आयोजित गीता जयन्त महोत्सव पर खर्च होने वाली राशि पर बोलते हुए सांसद दुष्यन्त चौटाला ने कहा कि यह एक तरह से फिजूलखर्ची है और सरकार को स्पष्ट करना चाहिए कि उसने दो सांसदों को किस आधार पर 35 लाख रूपए दिए। इस मौके पर जिला पार्षद उपेन्द्र कादयान, हलकाध्यक्ष राकेश जाखड़, संजय कबलाना सहित इनेलो के अनेक कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Published in हरियाणा

आवाज़(मुकेश शर्मा, दिल्ली): हरियाणा में पिछले 48 घंटों में बलात्कार की चार अमानवीय वारदातों ने सूबे को झकझोर कर रख दिया है. चारों और ये सवाल उठ रहे हैं कि आखिर ये क्या हो रहा है. सूबे में सरकार नाम की कोई चीज़ है या नहीं. पहले पिजौंर में नाबालिग और फरीदाबाद में युवती के साथ गैंगरेप हुआ. जींद में 15 साल की लड़की के साथ निर्भया कांड जैसी दरिंदगी की गई. पानीपत में 11 साल की बच्ची की रेप के हत्या कर दी गई. हद तो तब हो गयी जब ये पता चला कि  दरिंदे बच्ची के शव के साथ भी बलात्कार करते रहे. इंसानियत शर्मसार हो गई. अब सवाल उठने लगे हैं कि आखिर अपराधी इतने बेख़ौफ़ क्यों हैं. आखिर कहाँ हो सरकार?

रेप की एक के बाद एक तीन घटनाओं से सूबे की कानून व्यवस्था सवालों के घेरे में है. ये तीनों वारदात हरियाणा और उसके हुक्मरानों के मुंह पर तीन तमाचे हैं. सूबे के तीन शहरों में बेटियों के साथ रेप तीन वारदात हुई हैं. दरिंदों ने पूरे सूबे के मुंह पर कालिख पोत दी है और सरकार की इज्जत को तार-तार कर दिया है. लोगों का दिल दहल उठा है. वे डरे हुए हैं.

जींद में 15 साल की लड़की के साथ निर्भया कांड जैसी दरिंदगी हुई है. बलात्कार तो हुआ ही साथ ही ऐसी हैवानियत भरी दरिन्गी से टॉर्चर किया गया जिसे लफ्जों में बता पाना न तो हमारे लिए मुमकिन है और न ही आपके लिए सुन पाना. जींद के बूढ़ा खेड़ा गांव में नहर के पास खून से लथपथ शव मिला. रोहतक पीजीआई में पोस्टमार्टम के पता चला कि लड़की के साथ इतना वहशीपन हुआ कि रुह कांप जाए. उसके साथ हैवानियत की सारी हदें पार कर दी गई.

हरियाणा सरकार के दामन पर जींद रेपकांड इकलौता दाग नहीं है. पानीपत में भी 11 साल की बच्ची के साथ रेप हुआ है. रेप के बाद बच्ची की हत्या कर दी गई और फिर शव के साथ 4 घंटे तक रेप किया गया. वारदात उरलाना कला गांव में हुई. पुलिस का कहना है कि बच्ची के शव के साथ भी बलात्कार किया गया. दो आरोपियों को पुलिस ने गिरप्तार कर लिया है. 

रेप की इन वारदातों ने पूरे सूबे को सन्न कर दिया है. लोग सहमे हुए हैं. बेटियों की सुरक्षा का सवाल उन्हें खाए जा रहा है. सीएम साहब पानीपत रेप केस में आरोपियों की गिरफ्तारी पर पीठ ठोक रहे हैं. जींद के दरिंदों को जल्द पकड़ने का भरोसा दे रहे हैं. लेकिन इसी बीच फरीदाबाद में भी ऑफिस से लौट रही एक युवती से चलती कार में गैंगरेप की खबर आ गई.

युवती ऑफिस से घर लौट रही थी. फरीदाबाद के राजीव चौक से सरेआम उसे अगवा किया गया. चलती कार में 2 घंटे तक गैंगरेप किया गया और युवती को सीकरी में फेंक कर फरार गए. 24 घंटे बाद भी पुलिस के हाथ खाली हैं. बेटियों को पेट में ही मारने के लिए हरियाणा पहले से बदनाम है. अब इन वारदातों ने सूबे मे बेटियों की सुरक्षा पर सवाल खड़े हो रहे हैं. (इनपुट:आजतक)

Published in हरियाणा

आवाज़, 14 जनवरी(संजीत खन्ना, झज्जर): झज्जर जिला मुख्यालय की रविवार की सुबह अन्य दिनों से कुछ खास रही। जिला प्रशासन की ओर से आयोजित राहगीरी कार्यक्रम के दौरान शहर कुछ घंटों के लिए आनंद के आलम में डूब गया। मकर सक्रांति के पावन अवसर पर हुए अपनी तरह के इस खास आयोजन में हर वर्ग की उल्लेखनीय भागीदारी रही। राहगीरी कार्यक्रम में युवाओं, बुजुर्गों व महिलाओं ने खेल, सांस्कृतिक कार्यक्रम, पतंगबाजी, मुक्केबाजी, जुंबा डांस, साईकिलिंग, दौड़, कैरम बॉर्ड, कुश्ती, गली क्रिकेट, वालीवाल, योगा, जिमनास्टिक, बैडमिंटन, सांप सीढ़ी जैसे पारंपरिक खेलों में हर किसी ने अपनी भागीदारी निभाई।

राहगीरी के इस आयोजन में खास बात यह रही की बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ की मुहिम को और अधिक सशक्त करने तथा सडक़ सुरक्षा के प्रति भी लोगों को जागरूक किया गया। झज्जर के लिंगानुपात के आंकड़े में हुए खासे सुधार को एक कदम ओर आगे ले जाने के लिए राहगीरी कार्यक्रम के मुख्यअतिथि के तोर पर पहुंचे कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ ने बेटियों की समानता और जागरूकता की शपथ दिलाई। खेल और जीवन को सहज करने के इस माहौल में सडक़ सुरक्षा के नियमों के महत्व को समझाते हुए लोगों को सडक़ सुरक्षा के नियमों को लेकर भी शपथ दिलवाई गई। 


राहगीरी के इस कार्यक्रम में ही कला एवं सांस्कृतिक कार्य विभाग के तत्वावधान में तहसील स्तरीय सांस्कृतिक कार्यक्रम का भी ऐसा रंग जमा की लोग सांस्कृतिक कार्यक्रमों के झरोखे में घंटों बंधे रहे। खेल, स्वास्थ्य और मनोरंजन के इस अनूठे कार्यक्रम में बच्चों से लेकर बुर्जुेगों ने खुले दिल से भागदारी की। हरियाणा सरकार में कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ बतौर मुख्यातिथि रहे जबकि अध्यक्षता उपायुक्त सोनल गोयल ने की। कार्यक्रम में हरियाणा कला परिषद के मुख्य सलाहकार महेश जोशी बतौर विशिष्ट अतिथि उपस्थित रहे। राहगीरी कार्यक्रम के सफल आयोजन में एडीसी सुशील सारवान, एसडीएम झज्जर रोहित यादव, जिला परिषद सीईओ शिखा, सीटीएम अश्वनी कुमार सहित, डीडीपीओ विशाल कुमार, डीईओ सतबीर सिवाच, डीएसओ सत्यदेव मलिक, जिला सूचना एवं जनसपंर्क अधिकारी नीरज कुमार व महिला एवं बाल विकास की कार्यक्रम अधिकारी सुनैना सहित जिले के तमाम विभागों के अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित हुए।  


जीवन को आनंदमय बनाने में राहगीरी बेहतर : धनखड़


हरियाणा के कृषि एवं पंचायत विकास मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ ने राहगीरी कार्यक्रम का आगाज करते हुए उपस्थित लोगों को मकर सक्रांति की शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि राहगीरी कार्यक्रम हमारे जीवन को आनंदमय बनाने में एक अहम कदम है जिसके चलते हम जहां मनोरंजन के साथ ही शारीरिक व मानसिक रूप से खुशी महसूस करते हैं। उन्होंने युवाओं को जीवन में आगे बढऩे के लिए प्रेरित भी किया। जीवन में नई उमंग के साथ हर दिन का स्वागत करना चाहिए ताकि नई सोच व नई ऊर्जा के साथ हम जीवन में आगे बढ़ते चलें। 


सांझी मदद का किया शुभारंभ


मकर सक्रांति के अवसर पर जिला प्रशासन, झज्जर की जरूरमंदों के लिए सांझी मदद मुहिम का शुभारंभ हुआ। उपायुक्त सोनल गोयल ने राहगीरी कार्यक्रम के उपरांत जहांआरा बाग स्टेडियम से जरूरतमंदों की मदद के लिए एकत्रित सामग्री से भरे वाहन को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। यह वाहन जिला के स्लम एरिया में रहने वाले गरीब लोगों को उनकी जरूरत का सामान कपड़े, जूते, किताब, खिलौने व खेल का सामान वितरित करेगा। उपायुक्त ने सांझी मदद के लिए योगदान करने वाले जिलावासियों का आभार जताया।


ये है स्नेह और ममता की अद्भुत मिसाल


झज्जर में आज राहगीरी के अवसर पर स्नेह और ममता की अदभुत मिसाल देखने को मिली। मंच पर कार्यक्रम के दौरान मुख्यातिथि ओम प्रकाश धनखड़ को स्मृति चिह्न दिया गया। मंत्री महोदय ने कार्यक्रम स्थल से सबसे छोटे बच्चे को स्टेज पर आने के लिए आमंत्रित किया। मंच पर पूजा नाम की बच्ची आई। मंत्री ने पूजा को अपना स्मृति चिह्न उन्हें भेंट किया। जब ये पता चला कि पूजा का आज जन्मदिवस भी है। मंत्री महोदय ने बच्चे को पुष्पगुच्छ भी भेंट किया।


देखने को मिली ममता की मिसाल


कृषि मंत्री ओम प्रकाश धनखड जब कैरमबोर्ड खेल रहे थे तब इसी क्षेत्र की महिला आई। माता स्वरूप महिला ने कहा कि ओम प्रकाश आया है। उस माँ ने अपने आशीष दिया। मंत्री ओ पी धनखड का सिर पुचकारकर ममता उड़ेली। वहीं जब बुजुर्गों की दौड़ को मंत्री ने हरी झण्डी दिखाई तो दौड़ लगाने वाले बुजुर्गों का उत्साह बढ़ाने के लिए उनके साथ दौड़ में शामिल हुए। मकर सक्रांति के अवसर पर कृषि मंत्री को बुजुर्गों ने भी खूभ आशीष दिया। 

डीसी ने भी लिया पतंगबाजी का आनंद


राहगीरी के अवसर पर पतंगबाजी के लिए भी विशेष सत्र रखा गया था। जिला प्रशासन की ओर से पतंगबाजी के लिए नि:शुल्क पतंग व देसी मांझे का इंतजाम किया गया था। पतंगबाजी करने वाले बच्चों व युवाओं के साथ डीसी सोनल गोयल ने भी पतंगबाजी का आनंद लिया। उनके साथ अतिरिक्त उपायुक्त सुशीलसारवान व एसडीएम रोहित यादव ने भी पतंगबाजी के जौहर दिखाए।


मिमिक्री आर्टिस्ट अमित व जोगेंद्र कुंडू ने बढ़ाया राहगीरी का मजा


राहगीरी के दौरान हरियाणा कला एवं सांस्कृतिक कार्य विभाग की ओर से तहसील स्तरीय सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति दी गई। इस अवसर पर भिवानी से आए मिमिक्री आर्टिस्ट अमित वर्मा ने अमरीश पुरी, सैफ अली खान, जॉनी लीवर, अमिताभ बच्चन, धर्मेंद्र, सनी देओल आदि कलाकारों की आवाज निकाली और लोगों को जमकर हंसाया। इस अवसर पर हरियाणा के ख्याति प्राप्त कलाकार जोगेंद्र कुण्डू ने भी हरियाणवी संस्कृति से ओत-प्रोत प्रस्तुति दी। हरियाणवी ताऊ की वेशभूषा में आए जोगेंद्र कुण्डू के साथ युवाओं ने जमकर सेल्फी ली। 

Published in हरियाणा

आवाज़, झज्जर14 जनवरी(संजीत खन्ना): झज्जर पुलिस के हाथ एक बडी कामयाबी लगी है। झज्जर पुलिस के हत्थे जानी-मानी  मंजीत उर्फ माहल गैंग के चार बदमाश चढे है। पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर चारो बदमाशों को पकडने में कामयाबी हासिल की है। झज्जर की स्पेशल टास्क फोर्स टीम को सूचना मिली थी कि उपरोक्त गैंग के चार बदमाश  झज्जर में किसी हत्या की फिराक में है। जो रेवाडी की तरफ से झज्जर आ रहे है। सूचना के बाद झज्जर पुलिस ने शहर के सेक्टर 9 में नाके बंदी कर इन बदमाशों को पकडने की प्रयास किया, लेकिन बाईक सवार इन बदमाशो ने पुलिस पर फायर कर भागने का प्रयास किया। लेकिन टीम ने कडी मशक्त के बाद चारो बदमाशो को काबू कर लिया।

बदमाशो के कब्ज़े से एक बाईक व चार पिस्टल व 20 कारतुस बरामद किए गए। टीम इंचार्ज सुरेंद्र कुमार ने बताया कि टीम को गुप्त सूचना मिली थी कि मंजीत उर्फ माहल गैंग के सदस्य झज्जर में एक हत्या की वारदात को अंजाम देने की फिराक में है। जिस पर टीम ने कार्यवाही करते हुए चारो बदमाशों को गिरफ्तार किया है। उपरोक्त चार बदमाशो की पहचान सचिन पुत्र नरेन्द्र निवासी गांव दादनपुर, दीपक  पुत्र ईश्वर निवासी गांव खरहर,अभिषेक उर्फ मोटा निवासी बहादुरगढ़ तथा उत्तम पुत्र जगपाल निवासी गांव मलिकपुर के रूप में हुई है। चारों बदमाशों ने हत्या सहित तीन अन्य आपराधिक वारदातों का खुलासा भी किया है। पुलिस की माने तो उपरोक्त बदमाशो द्वारा ही कंझावला दिल्ली के इलाके से 15 नवंबर 2017 को  एक स्विफ्ट डिजायर गाड़ी छीनी गई। इसके अलावा अगस्त 2015 में उन्होंने धर्मेंद्र पुत्र ईश्वर सिंह निवासी गांव खरहर की हत्या करने के प्रयास भी किया था। इसी तरह बीती 11 जनवरी 2018 को दिल्ली नजफगढ़ निवासी दीपक पुत्र चांद की हत्या का खुलाासा भी बदमाशो से पुछताछ में हुआ है। पुलिस का दावा है कि चारो बदमाशो से रिमांड के दौरान कई और अन्य वारदातो का खुलासा भी हो सकता है। उपरोक्त बदमाशो को सोमवार न्यालय में पेश किया जाएगा। जिसके बाद उन्हे रिमांड पर लिया जाएगा। 

Published in हरियाणा

आवाज़(विशाल चौधरी, कैथल): कैथल से विधायक और कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने केंद्र कि बीजेपी सरकार पर जमकर हमला बोलते हुए कहा लोकतंत्र आज खतरे में है ,किसान, व्यापारी और कर्मचारी बीजेपी सरकार के उत्पीड़न का शिकार है और विपक्षी नेताओ को झूठे केस में फंसाकर विपक्ष की आवाज को दबाया जा रहा है। देश कि जनता बीजेपी के कुशाशन से परेशां है और वो बदलाव के लिए चुनाव का इंतजार कर रही है. गौरतलब है कि सुरजेवाला अपने विधानसभा क्षेत्र हरियाणा के कैथल में पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे थे जहाँ उन्होंने ये बातें कहीं.

वहीँ प्रदेश सरकार सरकार पर आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा कि आज हरियाणा में सरकार और प्रशाशन नाम की कोई चीज़ नहीं है. दिनोदिन अपराधों में इजाफा हो रहा है. अपराधियों के अंदर सरकार और प्रशाशन का कोई डर नहीं है, वे बेख़ौफ़ हैं. आज प्रदेश में दो निर्भया जैसे कांड ने हरियाणा की आत्मा को छलनी करके रख दिया है जिस प्रकार कुरुक्षेत्र की एक बेटी के साथ सफीदो के एक गांव में बलात्कार और शव से छेड़छाड़ कर दर्दनाक हत्या की गई है यह अपने आप में दिन को दहला देने वाली घंटना है।
 
रणदीप सुरजेवाला ने कैथल में कार्यकर्ताओ की मीटिंग लेने के उपरान्त मीडिया से रूबरू होते हुए कहा किसान, व्यापारी और कर्मचारी बीजेपी सरकार के उत्पीड़न का शिकार है. आज देश और प्रदेश में बदलाव की बयार है और लोगो चुनाव का इंतजार है. भारतीय जनता पार्टी पर अंग्रेजों की तरह फूट डालो और राज करो की नीति अपनाने का आरोप लगाते हुए कहा बीजेपी और देश की गुलाम बनाने वाले अंग्रेज में कोई अन्तर नहीं बचा. जाति और धर्म के आधार पर देश और प्रदेश का विभाजन कर बीजेपी सत्ता हथियाना चाहती है. वंही प्रदेश के मुख्यमंत्री पर कैथल में बार बार रैल्ली करने पर तंज कस्ते हुए सुरजेवाला ने कहा खट्टर साहब  रैली तो चाहे 1200 करे लेकिन 65 हजार की वोटों से जिताने वाले अपने हल्के करनाल की थोड़ी सुध ले. कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि कांग्रेस के प्रमुख विपक्षी नेता को झूठे केस में फंसाकर विपक्ष की आवाज को दबाया जा रहा है. ऐसे केसों से कांग्रेस पार्टी विचलित नहीं होगी. उन्होंने कहा कि ऐसे केस पार्टी को डरा नहीं सकते और देश के लिए कांग्रेस पार्टी लड़ाई जारी रखेगी.
 
वहीँ सुप्रीम कोर्ट के जजों के द्वारा खुले तौर पर प्रेस कॉन्फ्रेंस करना अपने आप में बयां करता है कि लोकतंत्र आज खतरे में है और सुप्रीम कोर्ट के चार जजों ने जिस प्रकार मुद्दे उठाये है उनका निदान होना जरुरी है. आज 45 प्रतिशत जजों के पद खाली है वंही एक जज की मौत पर भी रणदीप सुरजेवाला ने सवाल उठाते हुए कहा इसकी जाँच जरुरी है.
Published in हरियाणा