उत्तर प्रदेश: समाजवादी परिवार में हुई सुलह, रामगोपाल के साथ दिखे शिवपाल बोले: अब कोई मतभेद नहीं, मिलकर करेंगे बीजेपी से मुकाबला......!

29 Jun 2018
262 times

आवाज़(रेखा राव, दिल्ली): लोकसभा चुनाव 2019 का बिगुल बज चुका है, ऐसे में देश की सारी सियासी पार्टियां अपनी तैयारी में जुट गई हैं. मुकाबला मोदी बनाम पूरा विपक्ष का होने की उम्मीद जताई जा रही है. ऐसे में अखिलेश यादव के नेत्रित्व वाली समाजवादी पार्टी के अंदर भी सबकुछ ठीक होता हुआ दिखाई दे रहा है. सूत्रों की मानें तो यहाँ भी पार्टी जो पहले दो धडों में बनती हुई थी अब एक होती हुई दिखाई दे रही है. उसकी एक झलक तब दिखाई दी जब समाजवादी पार्टी के राष्ट्रिय महासचिव प्रोफेसर रामगोपाल यादव के 72वें जन्मदिन के उपलक्ष पर अखिलेश के प्रिय चच्चा प्रोफेसर रामगोपाल यादव और चच्चा शिवपाल यादव एक मंच पर दिखे. ये दोनों न केवल एक साथ दिखे बल्कि दोनों ने मिलकर केक भी काटा. शिवपाल ने प्रोफेसर रामगोपाल यादव के पांव भी छुए और आपसी मतभेद को बीते दिनों की बात कहकर एकता का सन्देश भी दिया.

गौरतलब है कि समाजवादी पार्टी के रीढ़ की हड्डी माने जाने वाले ये दोनों ही नेता करीब दो साल बाद एक साथ एक मंच पर दिखे हैं. हालांकि इस मौके पर प्रोफेसर रामगोपाल यादव कुछ भी कहने से बचते हुए दिखे लेकिन शिवपाल यादव ने कहा कि हमारे परिवार में अब कोई भी मतभेद नहीं है. हमसब एक हैं. हम प्रोफेसर रामगोपाल यादव को जन्मदिन की बधाई देते हैं और इस पावन मौके पर समस्त सेक्युलर पार्टियों का आवाहन करते हैं की आइये अब हम सब मिलकर प्रदेश में लगी हुई अघोषित इमरजेंसी को उखाड़ फेंके.

दरअसल समाजवादी पार्टी में अंतर्कलह उस वक़्त गहरा गई थी जब अखिलेश मुख्यमंत्री थे उन्होंने उस वक़्त के समाजवादी पार्टी के राष्ट्रिय अध्यक्ष और अपने पिता मुलायम सिंह यादव के कई निर्णयों का विरोध किया था. मुलायम सिंह यादव ने शिवपाल के पक्ष में जाते हुए कई बार अखिलेश यादव को डांट भी लगाईं थी. जिसके कारण पार्टी दो धड़ों में बाँट गई थी. एक धड़ा अखिलेश के चच्चा और मलायम के चहेते भाई शिवपाल यादव का बन गया था जबकि दूसरा धड़ा अखिलेश यादव और उनके पक्ष में खड़े प्रोफेसर रामगोपाल यादव का बन गया था. शिवपाल यादव ने इस झगडे का सारा ठीकरा रामगोपाल यादव के सर फोड़ा था और कहा था कि प्रोफेसर रामगोपाल यादव के कारण ही पिता-पुत्र के बीच दरार आई है.

Rate this item
(0 votes)

Error : Please select some lists in your AcyMailing module configuration for the field "Automatically subscribe to" and make sure the selected lists are enabled

Photo Gallery