सपा-बीएसपी ने यूपी को नरक बना दिया था: योगी आदित्यनाथ Featured

25 Nov 2017
3050 times

आवाज़(ब्यूरो, लखनऊ): उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपनी कट्टर हिंदूवादी छवि के लिए जाने जाते हैं. जैसे ही वो उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बने थे तो कई लोगों ने ये कहा था कि अब उत्तर प्रदेश में अल्पसंख्यक सुरक्षित नहीं हैं, लेकिन योगी को मुख्यमंत्री बने काफी अरसा हो गया, अबतक ऐसी एक भी घटना नज़र नहीं आई जिससे ऐसी बातों को बल मिल सके. लेकिन उत्तर प्रदेश में अभी भी कई सवाल हैं जिनका हल योगी को ढूँढना होगा. जितने वादे करके और सुनहरे सपने जनता को दिखाकर बीजेपी सत्ता में आई है उनमे से कुछ तो करके दिखाना होगा, जिससे जनता को ये लगे कि योगी वाकई अच्छा काम कर रहे हैं. हालांकि सत्ता में आते ही योगी में कुछ मुस्तैदी तो दिखाई, पिछली सरकार की कई फाइल खोलीं, भ्रष्टाचार के खिलाफ कड़ी कार्यवाही का भरोसा दिया. लेकिन अबतक न तो कोई बड़ा राजनेता जेलयात्रा पर गया है और न ही कुछ ऐसा करिश्मा हुआ है जिससे वो जनता का दिल जीत सकें. अब योगी ने एक ऐसा ब्यान दिया है जो राजनीतिक सुर्ख़ियों में आने वाला है. उन्होंने शनिवार को कहा कि समाजवादी पार्टी और बीएसपी ने पिछले 15 वर्षों में प्रदेश को नरक जैसा बना दिया था, लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के चलाए गए स्वच्छता अभियान के बाद से सड़क, जल निकासी, लाइट, नालों की सफाई के कार्य युद्ध स्तर पर चलाये जाने से जनता को नारकीय जीवन से मुक्ति मिल रही है. अब महादेवा एवं देवा दोनों जगहों पर लाइट उपलब्ध है. गौरतलब है कि बाराबंकी जिले में महादेवा में भव्य शिव मंदिर और देवा शरीफ की मजार मशहूर है, और उन्होंने इसी का हवाला देते हुए कहा है कि उनकी सरकार बिना किसी भेदभाव के काम कर रही है.

दरअसल राजकीय इंटर कॉलेज मैदान पर निकाय चुनाव के प्रत्याशियों के समर्थन में आयोजित सभा को संबोधित करते हुये मुख्यमंत्री ने अपराधियों और उपद्रवियों के खिलाफ सख्त रुख अपनाकर अपराध रोकने और कानून का राज स्थापित करने का दावा करते हुए कहा कि पिछले आठ माह से प्रदेश में एक भी जगह दंगा-फसाद नहीं हुआ है. यही कारण है कि व्यापारी प्रदेश में पुन: वापस आकर अपने व्यापार की शुरूआत कर दी है.

इस अवसर पर उन्होंने कहा कि कानून न मानने वाले प्रदेश एवं जिला छोड़कर बाहर चले जाएं.  उनकी सरकार प्रदेश में कुछ भी गलत नहीं किया है. इससे पहले उन्होंने अवैध बूचड़खाना, खनन बंद किए जाने की कार्रवाई की है. उन्होंने कहा कि भूमाफिया जो गरीब जनता या सरकारी भूमि पर कब्जा कर रहे हैं, उन पर कार्रवाई करने के लिए एंटी भूमाफिया टीम का गठन कर अवैध कब्जेदारों के विरूद्ध सख्त रवैया अपनाया जाएगा. नगर विकास के लिए पटरी दुकानदारों को हटायेंगे नहीं बल्कि उन्हें दूसरी जगह स्थापित किया जाएगा, जिस प्रकार दीपावली पर पूरी अयोध्या जगमगा रही थी ठीक उसी प्रकार नगर निकायों एवं टाउन एरिया में भी एलईडी की लाइटें जगमगायेंगी, इसका बोझ जनता पर नहीं पड़ेगा, क्योंकि केंद्र सरकार की एजेंसी एफएसएल के साथ लाइटें लगेगी. हालांकि योगी के इस कार्यक्रम के दौरान दो दर्जन से ज्यादा सहायक अध्यापकों ने नियुक्ति की मांग करते हुए पोस्टर लेकर सभास्थल पर मुख्यमंत्री के सामने प्रदर्शन किया, जिन्हें पुलिस ने शांत कराया.(इनपुट:जनसत्ता)

 

Rate this item
(0 votes)