प्रधानमंत्री अब बहाने लगाना करें बंद, फैसले लेने में हुईं गलतियों को स्वीकारें: राहुल गांधी Featured

05 Oct 2017
723 times

आवाज़ ब्यूरो(अमेठी): राहुल गांधी के तेवर आजकल कुछ तल्ख़ हैं. तभी तो वो केंद्र की NDA सरकार को घेरने में कोई कसर नही छोड़ रहे, और अक्सर ऐसा देखा गया है की उनके निशाने पर प्रधानमंत्री मोदी ही रहते हैं. ऐसा हो भी क्यों नहीं, आने वाले लोकसभा चुनावों में वो कांग्रेस और यूपीए की तरफ से प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार हो सकते हैं. इसलिए राहुल के निशाने पर प्रधानमंत्री का रहना लाजिमी है. ऐसा ही कुछ देखने को मिला अमेठी में, जहां राहुल गांधी ने एक बार फिर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बिगड़ती अर्थव्यवस्था के लिए जिम्मेवार ठहराया.

राहुल ने प्रधानमंत्री मोदी पर करारा हमला बोलते हुए कहा कि आपके गलत फैसलों की वजह से अर्थव्यवस्था का ये हाल हुआ है. जिसका खामियाज़ा इस देश की जनता भुगत रही है. जब भी कोई बिगड़ती अर्थव्यवस्था की बात करता है, बेरोज़गारी की बात करता है, किसानों की बात करता है, तो आप कोई ना कोई बहाना बना देते हो, ये किसी प्रधानमंत्री को ये शोभा नहीं देता. ये वक़्त आत्ममंथन का है. आप अपनी गलती स्वीकारें, बहाने बनाना बंद करें, और सकारात्मक कदम उठाए.

राहुल यहीं नहीं रुके, उन्होंने कहा, इस देश में उनके हिसाब से दो ही सबसे बड़ी समस्याएं हैं. पहली है बेरोज़गारी और दूसरी किसानों की समस्या. बेरोज़गारी के कारण जो नौजवान देश के निर्माण में अपना योगदान देना चाहता है, वो ऐसा नहीं कर पा रहा है. दूसरी सबसे बड़ी समस्या किसानों की है. आज किसान परेशान है, खुदखुशी करने को मजबूर है. लेकिन सरकार उनकी कोई मदद नहीं कर रही. अब प्रधानमंत्री को देश के सामने बहाने लगाना बंद करना चाहिए और इन 2 समस्याओं पर ध्यान देना चाहिए. उन्होंने प्रधानमंत्री पर तंज कसते हुए कहा की आपके पास डेढ़ साल बचा है, इसीलिए अपना पूरा ध्यान युवाओं को रोज़गार देने और किसानों की मदद में लगाइए.

वहीँ अमित शाह के अमेठी दौरे पर राहुल ने कहा कि यूपीए सरकार ने अमेठी के विकास के लिए बहुत कुछ किया है. लेकिन अब बीजेपी और उसके कई सीनियर लीडर इसका क्रेडिट लेना चाहती है. राहुल ने लगभग 20 ऐसे प्रोजेक्ट्स गिनाये जो यूपीए सरकार ने अमेठी के विकास के लिए मंज़ूर किये थे. साथ ही ये आरोप भी लगाया कि NDA सरकार जानबूझकर इन सब में देरी कर रही है. ताकि इसका सारा क्रेडिट वो खुद ले सके.

Rate this item
(0 votes)

Latest from Super User