मध्य प्रदेश: कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने कर डाली चुनाव प्रभारी की पिटाई, राहुल गाँधी ने आपात बैठक बुलाई..........

31 Jul 2018
524 times

आवाज़(रेखा राव, दिल्ली): मध्य प्रदेश कांग्रेस में गुटबाजी थमने का नाम ही नहीं ले रही. अब पार्टी एक-दो नहीं बल्कि कई खेमों में बंटी नजर आ रही है. साल के अंत में मध्य प्रदेश में चुनाव होने हैं ऐसे में ऐसी ख़बरें कांग्रेस की नींद उड़ाने वाली हैं. गुटबाजी का ये नज़ारा तब देखने को मिला जब रीवा में कांग्रेस महासचिव और चुनाव प्रभारी दीपक बाबरिया ने पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए कहा कि अगर मध्य प्रदेश में अगर कांग्रेस की सरकार बनती है तो कमलनाथ या फिर ज्योतिरादित्य सिंधिया में से कोई एक मुख्यमंत्री होगा. बाबरिया के ऐसा कहने से दूसरे दिग्गज़ नेताओं के कार्यकर्ता भड़क गये और उन्होंने बाबरिया की पिटाई कर डाली. मौके की नज़ाकत को समझते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने आपात बैठक बुलाई है.

गौरतलब है कि बाबरिया रीवा के सर्किट हाउस में पत्रकारों के सवालों का जवाब दे रहे थे. जहाँ उनसे जब कांग्रेस के सम्भावित मुख्यमंत्री के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि अगर मध्य प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनी तो कमल नाथ या फिर ज्योतिरादित्य सिंधिया में से कोई एक मुख्यमंत्री बनेगा. इसके बाद एक और पत्रकार ने बाबरिया से पूछा कि क्या मध्य प्रदेश में कांग्रेस के दिग्गज नेता और नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह मुख्यमंत्री की रेस से बाहर हो गये हैं तो इसपर बाबरिया ने कहा कि वो जो आप समझो. ऐसा जवाब सुनते ही वहां मौजूद अजय सिंह के समर्थक भड़क गये. उन्होंने बाबरिया के साथ धक्का-मुक्की की. बाबरिया बड़ी मुश्किल से अपनी जान बचाकर सर्किट हाउस के अपने कमरे में चले गये.

हालांकि अजय सिंह ने इस घटना पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि न तो वो अराजक हैं और ना ही उनके समर्थक ऐसी घटिया हरक़त कर सकते हैं. उन्होंने घटना पर दुःख जताते हुए कहा कि "जो भी हुआ, गलत हुआ है. ऐसे लोगों पर सख्त से सख्त कार्यवाही होनी चाहिए. वहीँ बाबरिया के साथ हुई इस धक्का-मुक्की की ख़बरें मीडिया में आने के बाद मध्य प्रदेश के गृहमंत्री भूपिंदर सिंह ने घटना का संज्ञान लेते हुए बाबरिया को पात्र लिखते हुए उनसे अनुरोध किया है कि यदि बाबरिया चाहें तो अपनी सुरक्षा के लिए सरकार से अनुरोध कर सकते हैं. सरकार उन्हें पूरी सुरक्षा देगी.

गृहमंत्री ने बारिया को लिखे अपने पत्र में कहा है कि मुझे मीडिया रिपोर्ट्स से ज्ञात हुआ है कि रीवा में आपसे कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने धक्का मुक्की की. इससे पहले भी आपके साथ इस तरह की घटनाएं हो चुकी हैं. मैं आपके साथ होने वाली इन घटनाओं से बहुत चिंतित हूँ. गृहमंत्री ने अपने पत्र में कहा कि यदि कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं से बचाने के लिए आपको सुरक्षा की जरुरत हो तो आप मुझे बताएं, ताकि सुरक्षा के प्रबंध किये जा सकें. गृहमंत्री ने आगे कहा कि मैं आपको यकीन दिलाता हूँ कि मध्य प्रदेश सरकार आपको पर्याप्त सुरक्षा सुनिश्चित करेगी. 

वहीं कांग्रेस ने इस घटना को बीजेपी प्रायोजित बताया. कांग्रेस प्रवक्ता शोभा ओझा ने कहा कि ये सब बीजेपी प्रायोजित घटना थी. उन्होंने गृहमंत्री के सुरक्षा मुहैया कराने वाले ब्यान पर कटाक्ष करते हुए कहा कि गृह मंत्री की जिम्मेवारी सबसे पहले प्रदेश की बेटियों को सुरक्षा देने की है जिनके साथ रोज़ बलात्कार हो रहे हैं. बेटियों को तो सुरक्षा दे नहीं पा रहे हैं और बाबरिया को देने की बात कह रहे हैं.......

 

 

Rate this item
(2 votes)

Latest from Super User

Error : Please select some lists in your AcyMailing module configuration for the field "Automatically subscribe to" and make sure the selected lists are enabled

Photo Gallery