ओपिनियन पोल : त्रिपुरा में पहली बार बनेगी भाजपा की बहुमत वाली सरकार, ढहेगा "लाल किला"........!

07 Feb 2018
2607 times

आवाज़(मुकेश शर्मा, दिल्ली): राजस्थान और पश्चिम बंगाल में उप-चुनावों में करारी हार झेल चुकी बीजेपी के लिए कुछ राहत भरी खबर है. खबरिया चैनल न्यूज़ एक्स के ओपिनियन पोल में त्रिपुरा में इस बार बीजेपी की सरकार बनती हुई नजर आ रही है. गौरतलब है कि 60 सदस्यों वाली त्रिपुरा विधान सभा के लिए 18 फरवरी को वोट डाले जाएंगे लेकिन अभी से ही ये कयास लगाये जा रहे हैं कि इस बार त्रिपुरा लाल-सलाम को अलविदा कहकर भगवा को अपनाने जा रहा है. न्यूज एक्स के ओपिनियन पोल के मुताबिक 25 सालों से सत्ता पर काबिज सीपीआईएम इस बार सत्ता से बेदखल होती नजर आ रही है. सर्वे के मुताबिक यहां इतिहास में पहली बार भाजपा की सरकार बनती दिखाई दे रही है. चैनल ने ओपिनियन पोल में दावा किया है कि भाजपा और आईपीएफटी के गठबंधन को 31 से 37 सीटें मिल सकती हैं जबकि सीपीआईएम को 23 से 29 सीटें हासिल हो सकती हैं. कांग्रेस एवं अन्य दलों को यहां एक भी सीट नहीं मिलने का अनुमान जताया गया है. कहा जा रहा है कि त्रिपुरा में पिछले 25 सालों से सीपीआईएम की सरकार रही है इसलिए माणिक सरकार के खिलाफ एंटी इन्कम्बेंसी फैक्टर हावी है. हालांकि, मुख्यमंत्री माणिक सरकार फिर से धनपुर से चुनाव जीतने में सफल होंगे. 

देश के पूर्वोत्तर राज्य त्रिपुरा में जैसे-जैसे चुनाव की तारीख नजदीक आती जा रही है, वैसे-वैसे राजनीतिक दलों और राजनेताओं के दावों-प्रतिदावों और आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है. सर्वे के मुताबिक राज्य में भाजपा का प्रसार-प्रचार बहुत ही तेजी से हुआ है. इस बार पूरे राज्य में बीजेपी की लहर दिख रही है. माणिक सरकार के खिलाफ उभरे असंतोष का फायदा यहां सिर्फ बीजेपी को मिलने का दावा किया गया है. सर्वे में कहा गया है कि बेरोजगारी और आदिवासियों के बीच स्वतंत्र त्रिपुरा की मांग एक अहम मुद्दा बनकर उभरा है. पूरे राज्य में 18 फरवरी को मतदान होगा जबकि 3 मार्च को वोटों की गिनती की जाएगी. राज्य की सभी बूथों पर इलेक्‍ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों के साथ VVPAT सिस्‍टम का प्रयोग किया जाएगा.

दरअसल कांग्रेस मुक्त भारत अभियान पर बढ़ रही बीजेपी असम, मणिपुर और अरुणाचल प्रदेश में सरकार बनाने के बाद अब त्रिपुरा, मेघालय और नगालैंड में भी कमल खिलाने के लिए जी-तोड़ मेहनत कर रही है. अभी हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वहां सभा कर लौटे हैं. इसके अलावा केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह भी त्रिपुरा दौरे पर थे. सोमवार को मुख्यमंत्री माणिक सरकार ने बीजेपी की हिन्दूवादी एजेंडे की आलोचना करते हुए कहा था कि बीजेपी देश को बांटना चाह रही है.

Rate this item
(0 votes)

Error : Please select some lists in your AcyMailing module configuration for the field "Automatically subscribe to" and make sure the selected lists are enabled

Photo Gallery