हरियाणा: कुरुक्षेत्र से सांसद राजकुमार सैनी ने साधा हुड्डा पर निशाना, बोले: एक तरफ हुड्डा दलित कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष का सर फोड़ते हैं, दूसरी तरफ दलित सम्मलेन करते हैं......

आवाज़(विशाल चौधरी, कैथल): हमेशा अपने विवादित बयानों से सुर्ख़ियों में रहने वाले कुरुक्षेत्र से सांसद राज कुमार सैनी कड़ी सुरक्षा के बीच कुरुक्षेत्र सासद राजकुमार सैनी गांव सेरधा पहुंचे। अब सांसद साहब आ रहे हैं तो फिर वो कहीं पर भी कुछ भी कह सकते हैं जिससे हालात बिगड़ भी सकते हैं तो ऐसे में प्रशाशन ने गांव में चप्पे-चप्पे पर भारी पुलिस बल तैनात किया गया था। ताकि अगर कोई ऊँच-नीच हो जाए तो तुरंत हालात पर काबू पाया जा सके. लेकिन इस बार सांसद जरा संभलकर बोले, संयमित होकर बोले और विपक्ष को निशाने पर लेते हुए बोले. निशाने पर इस बार पूर्व मुख्यमंत्री और वरिष्ठ कांग्रेसी नेता चौधरी भूपिंदर सिंह हुड्डा थे.

सैनी ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि मेरी लड़ाई किसी जाति विशेष से नही है बल्कि मेरी लड़ाई सिस्टम से है. उन्होंने कहा कि सिस्टम को ठीक करना पड़ेगा जिसमे सबसे पहले ये होना चाहिए कि सभी जातियों को सौ प्रतिशत आरक्षण मिलना चाहिए और इस मांग में मैंने कहाँ किसी जाति का विरोध किया लेकिन आरक्षण के नाम पर दादागिरि नही चलने दूंगा. वहीँ भूपिंदर सिंह हुड्डा पर करारा हमला करते हुए उन्होंने कहा कि  आरक्षण का बीज भूपेंद्र हुड्डा ने बोया है उन्होंने समाज को बांटा है तो उसका खामियाज़ा उन्हें भुगतना पड़ेगा. साथ ही हुड्डा पर दलित विरोधी होने का इलज़ाम लगते हुए उन्होंने कहा कि  हुड्डा एक तरफ तो दलित प्रदेशाध्यक्ष का सिर फोड़ते है और दूसरी तरफ दलित सम्मेलन करते हैं. 


वहीँ पत्रकारों से रु-ब-रु होते हुए सैनी बोले कि मैं सेरधा में तनाव पर फ्रेम करने नही आया हूँ, मै इसे सुलझाने आया हूँ गांव में अगर जो मेरे से विकास बन पड़ेगा करने आया हूँ. जब उनसे नयी राजनितिक पार्टी बनाने के बारे में पूछा गया तो सैनी ने कहा कि अभी फिलहाल जनता ने उन्हें 5 साल के लिए जनादेश दिया है तो मैं केवल वही ड्यूटी पूरी कर रहा हूँ. बाकी लोकतंत्र में जनता जनार्दन होती है, वो जो नाम सुझाएगी और जो चाहेगी उसके मुताबिक नया राजनितिक दल बना दिया जाएगा. साथ ही अपने मन कि ठींस निकलते हए सांसद ने कहा कि सत्तारूढ़ रहते हुए हम जो कहना चाहते है वो बात मन तक ही रह जाती है तो इसके लिए काम कर रहा हूँ. 

 

Rate this item
(0 votes)

66 comments

Leave a comment

Make sure you enter the (*) required information where indicated. HTML code is not allowed.