रेवाड़ी को मिलेगा मेट्रो का तोहफा, अब दिल्ली दूर नहीं! Featured

आवाज़(बी.डी. अग्रवाल,रेवाड़ी):रेवाड़ी जिले के निवासियों के लिए खुशी की खबर है कि उन्हें शीघ्र ही मैट्रो में बैठने का अवसर मिलेगा और अब उनके लिए दिल्ली दूर नही रहेगी. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार मैट्रो रेल कॉर्पोरेशन ने अपने प्रथम चरण में  दिल्ली -रेवाड़ी-अलवर आरआरटीएस कॉरिडोर को लेकर डीपीआर का कार्य शुरू कर दिया है. गुरुग्राम- रेवाड़ी और नीमराना तक के 100 किलोमीटर के सर्वेक्षण कार्य को 2 एजेंसियों को सौंपा है. रेवाड़ी में यह सर्वेक्षण के कार्य शुरू हो चुका है. मैट्रो सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार विभाग ने प्रॉजेक्ट को शुरू करने से लेकर मैट्रो के चलने तक के अंतिम चरण की रूप रेखा भी तैयार कर ली है. 

भूमि अधिग्रहण का मुआवजा 2018 में
 
रेपिड रेल ट्रांसपोर्ट सिस्टम (आरआरटीएस ) के तहत जून 2018 में भूमि अधिग्रहण कर किसानों को मुआवजा दे दिया जाएगा. जिसके तहत अक्टूबर 2018 से जून 2019 तक प्रिमिलरी इन्वेस्टिगेशन का कार्य पूरा कर लिया जाएगा. जुलाई 2019 से मार्च 2024 तक सभी एलिवेटिड और अंडरग्राउंड स्ट्रक्चर और स्टेशन का कार्य पूरा कर लिया जाएगा. पंचगांव के पास मैट्रो का एक डिपो भी बनाया जाएगा जिसका निर्माण कार्य 2019 मे शुरू हो जाएगा. विभाग की प्लानिंग के अनुसार जनवरी 2022 में ट्रैक, रेलवे सिग्नल, टेलीकॉम और पॉवर सप्लाई पर कार्य शुरू कर दिया जाएगा. यदि सबकुछ सही रहा तो अप्रैल 2023 से ऑटोमेटिक फेयर कलेक्शन का कार्य शुरू कर दिया जाएगा.
 
रेवाड़ी के मास्टर प्लान के मुताबिक रेवाड़ी का मैट्रो स्टेशन माजरा गुरदास और बैरियावस की राजस्व सीमा में सेक्टर 32 स्थित केशव कुंज के पास बनेगा. मैट्रो स्टेशन को शहर से और एनएच-71 व एनएच-8 से जोड़ने के लिए डीटीपी विभाग ने नए बाईपास भी निकाले हैं. उम्मीद है कि मैट्रो के साथ- साथ प्रस्तावित सड़कों का कार्य भी शुरू हो जाएगा जो रेवाड़ी के किसी सौगात से कम नही होगा.
 
 
Rate this item
(3 votes)

Latest from Super User

2627 comments

Leave a comment

Make sure you enter the (*) required information where indicated. HTML code is not allowed.