Items filtered by date: Tuesday, 29 May 2018
आवाज़(बी.डी. अग्रवाल, रेवाड़ी): आदमी पार्टी  रेवाड़ी इकाई द्वारा कोसली विधानसभा की मीटिंग की गई,जिसकी अध्यक्षता जिला अध्यक्ष संदीप यादव ने की। संदीप ने बताया की आने वाली 31 मई को हरियाणा अध्यक्ष नवीन जयहिंद कोसली में आ रहे हैं वो अपने  हाथों से कोसली विधानसभा के ऑफिस का उद्घाटन करेंगे।उद्घाटन समारोह की तैयारी के लिए कोसली ऑफिस मीटिंग में की गई ।जिसमें सभी कार्यकरताओ की ड्यूटी लगाई गई।समारोह में हजारो की संख्या में कार्यकर्ता आयेंगे, इसके लिए सभी पदाधिकारियो को दिशा- निर्देश दिए गए हैं।
 
संगठन मंत्री डॉ अनिल यादव ने बताया कि नवीन जयहिंद का बाईपास से रोड शो कराते हुए ऑफिस स्थल तक लाया जायेगा। गर्मी को देखते हुए कार्यकर्ताओं के लिए ठन्डे पानी की शिकंजी व भोजन की व्यवस्था भी करा दी गई हैं। सभी लोग  ऑफिस खुलने पर खुश हैं क्योकि ये आम आदमी का ऑफिस होगा। इस बैठक में हरीश बिड़ला,योगेश,हर्ष,हरिओम बंसल,संतोष  देवी,राजू,हरीश,जॉली,सागर,प्रवेश,योगेश आदि मौजूद थे।
Published in हरियाणा
आवाज़(बी. डी. अग्रवाल, रेवाड़ी):  ओवरलोडिंग वाहनों को रोकने के लिए रेवाड़ी जिला में आरटीए सचिव प्रदीप दहिया द्वारा ओवर लोडिंग वाहनो की बीती रात जांच की गई जिसमें 20 ओवरलोडिंग वाहनों के चालान कर उन पर 12 लाख 9  हजार 500 रूपए का जुर्माना कर ईम्पाउंड भी किया।आरटीए सचिव एवं अतिरिक्त उपायुक्त प्रदीप दहिया ने बताया कि जिला प्रशासन सिस्टम को सुधारने की दिशा में लगातार प्रयासरत हैं, जिसके तहत रेवाड़ी में आरटीए स्टाफ में फेरबदल भी किया गया है। बीती रात ओवरलोडिंग वाहनो की चैकिंग के लिए टीम गठित कर वाहनों की धरपकड़ के लिए विशेष अभियान चलाया गया। उन्होंने बताया कि चैकिंग का उनका यह अभियान लगातार जारी रहेगा। 
 
प्रदीप दहिया ने बताया कि जिला की सीमा में प्रवेश करने वाले अवैध व ओवरलोड वाहनों पर प्रशासन की नजर है और इनके खिलाफ सख्त कार्यवाही करते हुए इन पर नियमानुसार जुर्माना लगाया जा रहा है ताकि ऐसे वाहन चालक जिला में ओवरलोडिंग व अवैध वाहन चलाने की हिम्मत न करें। उन्होंने कहा कि यह अभियान जिला में ओर सख्ती के साथ चलाया जाएगा। श्री दहिया ने बताया कि ओवरलोडिंग वाहनों से सडके टूटती है तथा दुर्घटनाएं घटने की सम्भावनाएं अधिक रहती है। उन्होंने सख्ती दिखाते हुए कहा कि छुट्टी वाले दिन भी अवैध व ओवर लोडिंग वाहनों की चैकिंग की जाएगी।  
 
उल्लेखनीय है कि 15 मार्च 2018 से 27 मई 2018 तक रेवाडी जिला में 993 वाहनों के 3 करोड 15 लाख 72 हजार 200 रूपये के चालान आरटीए रेवाडी द्वारा किये गए जिसमें ओवर लोडिंग वाहनों के अतिरिक्त 28 प्राईवेट बसे व 12 स्कूल बसें शामिल है।
Published in हरियाणा

आवाज़(मुकेश शर्मा, दिल्ली): अब जब 2019 के लोकसभा चुनाव का काउंटडाउन शुरू हो चूका है ऐसे में तमाम राजनीतिक दलों ने इसके लिए कमर कसना शुरू कर दी है. या यों कहें कि राजनितिक दलों के साथ-साथ उनसे जुड़े गैर-राजनीतिक संगठन भी अपने अपने हिसाब से चुनाव के लिए तैयार हो चुके हैं. ऐसे में बात अगर बीजेपी से जुड़े राष्ट्रित स्वयंसेवक संघ ने भी कमर कस ली है. वैसे तो केंद्र की बीजेपी सरकार का रिमोट कंट्रोल प्रधानमंत्री मोदी के पास है, इसमें किसी कोई शक भी नहीं हैं लेकिन सरकार की नीतियों और योजनाओं की समीक्षा संघ करता आया है. इतना ही नहीं मोदी सरकार की योजनाओं और नीतियों में भी जो भी बदलाव होते हैं वो संघ से जुड़े हुए संगठनों की ग्राउंड रिपोर्ट के आधार पर होते हैं. यानी इस बात को यों भी कह सकते हैं कि बीजेपी अगर शरीर है तो संघ उसमे बसी आत्मा.

इन्हीं तमाम बातों के मद्देनजर इस सोमवार से संघ और बीजेपी की बैठक शुरू हुई जिसमें केंद्र की मोदी सरकार और बीजेपी के कामकाज की समीक्षा शुरू हो चुकी है. संघ से जुड़े विभिन्न संगठनों और बीजेपी के बीच तीन दिन चलने वाली समन्वय बैठकों के दौर में पहले दिन की बैठक में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के साथ पांच मंत्री प्रकाश जावड़ेकर, जेपी नड्डा, मेनका गांधी, महेश शर्मा, राज्यवर्धन सिंह राठौड़ के मंत्रालयों को लेकर चर्चा हुई. अमित शाह के साथ में बीजेपी की तरफ से महासचिव रामलाल, राम माधव व विनय सहस्त्रबुद्धे मौजूद थे. वहीं संघ की तरफ से सह सरकार्यवाह कृष्ण गोपाल व अन्य संगठनों के पदाधिकारी मौजूद रहे. वहीँ संघ से जुड़े हुए एबीवीपी, एकल विद्यालय, सेवा भारती, आरोग्य भारती, राष्ट्रीय सेविका समिति, विद्या भारती और संस्कार भारती आदि संगठनों ने भी बैठक में हिस्सा लिया.

मंगलवार को किन-किन मुद्दों पर हो सकती है चर्चा....

वहीँ मंगलवार के कर्यक्रम पर नजर डालें तो सूत्रों के मुताबिक दूसरे दिन इस बैठक में एयर इंडिया के विनिवेश के साथ पेट्रोल-डीजल की कीमतों का मुद्दा भी चर्चा में रहेगा. संघ भली-भाँती इस बात से वाकिफ है कि दिनोंदिन बढ़ते पेट्रोल-डीज़ल के दामों से जनता में रोष है और विपक्ष भी इस मुद्दे को भुनाने में कोई कसर नहीं छोड़ रहा है. ऐसे में इस मुद्दे की काट ढूँढना भी संघ और बीजेपी के लिए प्राथमिकता होगी. बैठक में मोदी सरकार की तरफ से जहां वित्त मंत्री पीयूष गोयल, वाणिज्य मंत्री सुरेश प्रभु रहेंगे, वहीं संघ से जुड़े संगठन भारतीय मजदूर संघ, किसान संघ, लघु उद्योग भारती, स्वदेशी जागरण मंच हिस्सा लेंगे. सूत्रों की मानें तो संघ व भाजपा (सरकार सहित) के बीच इस समन्वय बैठक में चर्चा के लिए विभिन्न मंत्रालयों से जुड़े समूह बनाए गए हैं. इनमें सेवा समूह, वैचारिक समूह, आर्थिक समूह, शिक्षा समूह, सामाजिक समूह, सुरक्षा समूह आदि शामिल हैं.

सरकार की छवि पर मंथन और घर-घर तक सरकार की नित्यों का प्रचार-प्रसार संघ की प्राथमिकता 

सूत्रों की मानें तो वैसे तो संघ बीजेपी सरकार के कामकाज और केंद्र की जन-कल्याणकारी नीतियों से संतुष्ट है, लेकिन विपक्ष द्वारा मोदी सरकार के विरुद्ध चलाये जा रहे अभियान और जनता के बीच सरकार के कामकाज को लेकर जनता में बन रही धारणा को लेकर चिंतित जरूर है. जिसे बदलने के लिए संघ जून महीने के तीसरे सप्ताह से जनता के बीच सरकार के सामाजिक कार्यों का बखान अपने स्वयं सेवकों के ज़रिए करेगा.

 

Published in राजनीति