राम जेठमलानी ने की वकालत से संन्यास की घोषणा

10 Sep 2017
29901 times

आवाज़ ब्यूरो(दिल्ली): जाने माने अधिवक्ता राम जेठमलानी ने सात दशक लंबे वकालत के करियर से संन्यास लेने की घोषणा कर दी, 94 वर्षीय जेठमलानी ने कहा- 'मैं यहां आपको केवल यह कहने आया हूं कि मैं अपने पेशे से संन्यास ले रहा हूं। लेकिन जिंदगी रहने तक नई भूमिका रहेगी।

मेरी भ्रष्ट राजनेताओं के खिलाफ लड़ाई जारी रहेगी,  मुझे उम्मीद है कि भारत की स्थिति अच्छा रूप लेगी।

उन्होंने कहा, ‘‘देश अच्छी स्थिति में नहीं है. पिछली और मौजूदा दोनों सरकारों ने देश को बहुत बुरी तरह नीचा दिखाया है.’’ जेठमलानी ने कहा, ‘‘इस बड़ी विपत्ति से उबारने की जिम्मेदारी बार के सदस्यों की और सभी अच्छे नागरिकों की है.’’ उन्होंने कहा कि लोगों को इस बात के लिए भरसक प्रयास करने चाहिए कि सत्ता में बैठे लोगों को जल्द से जल्द बाहर का रास्ता दिखाया जाए.

ये सब उन्होने तब कहा जब भारत के नये प्रधान न्यायाधीश न्यायमूर्ति दीपक मिश्रा को सम्मानित करने के लिए बार काउंसिल ऑफ इंडिया द्वारा आयोजित समारोह को वो संबोधित कर रहे थे.

 मौके पर जेठमलानी ने कहा, ‘‘मैं यहां आपको केवल यह कहने आया हूं कि मैं अपने पेशे से संन्यास ले रहा हूं.और मुझे उम्मीद है कि आने वाले समय में भारत की राजनीति मे फेरबदल होगा,और भ्रष्ट नेताओ से आजादी मिलेगी और भारत की स्थिति अच्छी शक्ल लेगी.’’

 

 

 

 

Rate this item
(0 votes)