राफेल मामले पर संसद में आज खूब गरजीं-बरसीं रक्षा मंत्री निर्मला, उड़ा दीं राहुल के आरोपों की धज्जियां, बोलीं: हमने 9% सस्ते खरीदे राफेल, झूठ फैला रही कांग्रेस

04 Jan 2019
198 times

आवाज़(मुकेश शर्मा, दिल्ली): राफेल सौदे को लेकर कांग्रेस-भाजपा के बीच घमासान जारी है....पूरा देश इसी पशोपेश में है कि आखिर इस मुद्दे पर कौन सच बोल रहा है और कौन झूठ..... लेकिन आज देश की संसद में जिस तरह से देश की रक्षा मंत्री ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के सब सवालों का जवाब दिया और उनके आरोपों की धज्जियां उड़ा दिन उसका नज़ारा पूरे देश ने देखा.... पूरे घटनाक्रम को देखकर तो एक सवाल सबके मन में खड़ा हुआ कि क्या सच में इस मुद्दे पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी झूठ फैला रहे हैं?

निर्मला ने अपने जवाब की शुरुआत करते हुए कहा कि इससे पहले कि मैं राफेल पर जवाब देना शुरू करूँ हम सबको पहले अपने देश की सेना की जरूरतों को समझना होगा.... उन्होंने पाकिस्तान और चीन की वायुसेना के पास मौजूद अत्याधुनिक विमानों में बारे में बताया और कहा कि जहां हमारे पड़ोसी अपनी ताकत को दिनोदिन बढ़ा रहे हैं वहीं हम दिनोंदिन कमजोर हो रहे हैं... उन्होंने कांग्रेस पर निशाना साधा और कहा कि कांग्रेस ने इस डील के अंदर डील ढूंढी यानी अपनी अपनी कमीशन के चक्कर में देश की सुरक्षा को खतरा में डालते हुए इस सौदे को अमलीजामा नहीं पहनाया.......

वहीँ केंद्रीय रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण ने राफेल मुद्दे पर बहस के दौरान लोकसभा में कहा, "राहुल गांधी की फ्रांस के राष्ट्रपति से जो भी बात हुई, उसकी आधिकारिक प्रति संसद के समक्ष रखी जानी चाहिए... इस मामले पर कांग्रेस अध्यक्ष ने देश और संसद को गुमराह किया है...रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण ने राफेल मुद्दे पर बहस के दौरान लोकसभा में कहा कि पीएम के खिलाफ असंसदीय भाषा का इस्तेमाल किया गया. कांग्रेस के सारे आरोप निराधार हैं. उन्होंने कहा कि राफेल पर कांग्रेस घड़ियाली आंसू बहा रही है.

लोकसभा में रक्षामंत्री ने कहा कि जब राहुल गांधी ने HAL बेंगलुरु में बैठक की थी, तब उन्होंने कहा कि राफेल आपका हक है और आपको इसे बनाना चाहिए.  सीतारमण ने कहा कि जब कांग्रेस सत्ता में थी तो उन्होंने  एचएएल की हालत सुधारने के लिए कुछ नहीं किया.जबकि हमने एचएएल की हालत सुधारने के लिए कई कदम उठाए हैं.... आज एचएएल देश में कई विमान बना रहा है..... जिसकी कीमत लाख करोड़ों में है.... जबकि कांग्रेस ने अपने शासनकाल में कुछ भी नहीं किया.... अब घडियाली आंसू बहा रहे हैं..... उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि "रक्षा के लिए सौदा करना और रक्षा के नाम पर सौदा करने में फर्क होता है... हम रक्षा के नाम पर सौदा नहीं करते... हम रक्षा के लिए सौदा करते हैं, जिसमें राष्ट्रीय सुरक्षा प्राथमिकता होती है..."

रक्षामंत्री ने कहा कि सरकार हर सवाल का जवाब देने को तैयार है लेकिन कांग्रेस को रक्षा सौदे की गोपनीयता समझनी चाहिए. रक्षा मंत्री ने कहा कि पहला राफेल विमान 2019 यानी डील के 3 साल के भीतर आ जाएगा जबकि कांग्रेस यह काम नहीं कर पाई. उन्होंने कहा कि 2022 तक सभी विमान यानी 36 विमान भारत आ जाएंगे. यूपीए के वक्त में 10 साल तक करार की प्रक्रिया तक पूरी नहीं हो पाई जबकि हमने 3 महीने में यह करके दिखाया है. उन्होंने लोकसभा में कहा, "पहला विमान सितंबर, 2019 में दे दिया जाएगा, और 36 विमान वर्ष 2022 में दिए जाएंगे... सौदेबाज़ी की प्रक्रिया 14 महीने में पूरी कर ली गई थी..."

अंत में जो सबसे महत्वपूर्ण निर्मला सीतारमण ने कही कि ये राफेल का सौदा हमें फिर से सत्ता में लाएगा जबकि आपका झूठ जनता के बीच बेनकाब हो चुका है..... यानी इतना साफ़ है कि राफेल का जिन्न अभी चुनाव तक जिंदा रहने वाला है और इसमें अभी और भी कई मोड़ आने बाकी हैं.... लेकिन आज के रक्षा मंत्री के तेवर देखकर तो यही लगा कि बीजेपी ने सोच समझकर इस मुद्दे उनको पूरी तैयारी से मैदान में उतरा है..... कांग्रेस आज पूरे दिन बेक फूट पर नजर आई......

Rate this item
(1 Vote)

Latest from Super User

Error : Please select some lists in your AcyMailing module configuration for the field "Automatically subscribe to" and make sure the selected lists are enabled

Photo Gallery