प्रधानमंत्री ने दिया किसानों को धोखा, इसलिए किसान है आत्महत्या को मजबूर: राहुल गांधी

06 Jun 2018
193 times

आवाज़(मुकेश शर्मा, दिल्ली): देश भर में किसान आन्दोलन चल रहा है. कोई दूध सड़क पर बहाकर अपना विरोध जता रहा है तो कोई सब्ज़ी सड़कों पर बिखेर रहा है.  इन सब के बीच राहुल गांधी अपने मिशन 2019 के लिए व्यस्त हैं और वो किसानों के बीच जाकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को घेरने का कोई भी मौका नहीं छोड़ रहे. ऐसा ही कुछ देखने को मिला जब राहुल गाँधी मध्य प्रदेश के मंदसौर पहुंचे जहां उन्होंने पहले तो पिछले साल किसान आन्दोलन के दौरान मारे गये किसानों के परिवारों से मुलाकात की और फिर अपनी मंदसौर रैली में प्रधानमंत्री पर जमकर हमला बोला. गौरतलब है कि आज मंदसौर में पिछले साल प्रशासन की गोली से मारे गये किसानों की बरसी थी जिस मौके पर कांग्रेस ने रैली का आयोजन किया था.

 राहुल गाँधी ने इस मौके पर शिवराज सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जमकर निशाने पर लिया. राहुल ने कहा कि चाहे मध्य प्रदेश की शिवराज चौहान की सरकार हो या फिर केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार इनके दिल में किसानों के लिए कोई जगह नहीं है. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि दिनभर पीएम मोदी और शिवराज सिंह चौहान बातें करते रहते हैं लेकिन किसानों के बारे में कुछ नहीं करते हैं. ये लोग किसानों की पूजा करते हैं लेकिन उनका कर्ज माफ नहीं करते हैं.  आज देश भर का किसान आत्महत्या करने को मजबूर है लेकिन सरकार के कानों में जूं तक नहीं रेंग रही. उन्होंने कहा कि जिस दिन मध्यप्रदेश में कांग्रेस की सरकार आएगी उसके दस दिन के अंदर किसानों का कर्ज माफ हो जाएगा. वहीँ राहुल ने कहा कि जब हमारी सरकार आएगी तो हम खेतों के पास ही फूड प्रोसेसिंग पार्क बनाएंगे जिससे किसानों को पूरा लाभ होगा. उन्होंने कहा कि मैं चाहता हूं कि यहां जो लस्सुन होता है, दस साल में वो लस्सुन चीन की राजधानी बीजिंग में चीनी लोग खाएं. 

वहीँ प्रधानमंत्री मोदी पर उन्होंने केवल भ्रष्टाचारियों का साथ देने का आरोप लगाते हुए कहा कि प्रधानमंत्री ने नीरव मोदी, मेहुल चौकसी, ललित मोदी, विजय माल्या सारे के सारे घोटालेबाजों को विदेश भागने दिया. राहुल ने कहा कि पीएम मोदी, नीरव मोदी को 'नीरव भाई' और मेहुल चोकसी को 'मेहुल भाई' बुलाते हैं. साथ ही बेरोज़गारी के मुद्दे पर राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने युवाओं को नौकरी देने का वादा किया था, 15 लाख देने का वादा किया था लेकिन इन्होंने अपना एक भी वादा पूरा नहीं किया. 

वहीँ चीन के मुद्दे पर उन्होंने ओराधान्मंत्री को घेरते हुए कहा कि प्रधानमंत्री चीनी राष्ट्रपति के साथ अहमदाबाद में झूला झूल रहे थे, लेकिन कुछ ही दिन बाद डोकलाम में चीन की सेना घुस गई. उन्होंने कहा कि मोदी जी की जेब में जो फोन है उसके पीछे भी मेड इन चाइना लिखा है, जिससे वो सभी को मैसेज करते हैं.

Rate this item
(0 votes)

Latest from Super User