मोदी को समुद्री पानी के खारेपन को दूर करने वाली जीप तोहफे में देंगे उनके दोस्त नेतन्याहू...

05 Jan 2018
273 times

आवाज़(मुकेश शर्मा, दिल्ली): प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और इस्राइली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू की दोस्ती किसी से छुपी हुई नहीं है. जिसके चलते मोदी पहले इस्राइल गए, दोनों देशो के बीच वहां कई समझौते भी हुए. हालांकि कई राजनीतिक दलों ने मोदी के इस दौरे पर सवाल भी उठाए और ये आरोप लगायाकि मोदी के इस दौरे से भारत अपने पुराने दोस्त फिलिस्तीन को खो देगा, लेकिन मोदी नहीं माने. अब ये दोस्ती और परवान चढ़ रही है और इस्राइली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू भारत आ रहे हैं. सूत्रों की मानें तो नेतन्याहू अपने इस दौरे के दौरान प्रधानमंत्री मोदी के लिए एक ख़ास तोहफा देने वाले हैं.14 जनवरी से शुरू हो रही अपनी भारत यात्रा के दौरान नेतन्याहू अपने दोस्त मोदी को  खारे पानी को पीने लायक शुद्ध बनाने वाले गल-मोबाइल जीप गिफ्ट देने वाले हैं.

दरअसल पिछले साल जुलाई में अपनी इस्राइल यात्रा के दौरान मोदी ने नेतन्याहू के साथ इस ‘बुग्गी’ जीप में बैठकर भूमध्य सागर के तट की सैर की थी और खारे पानी को पीने लायक बनाने का नमूना भी देखा था. और अब सूत्रों की मानें तो नेतन्याहू अब यही जीप मोदी को तोहफे में देने जा रहे हैं.

गौरतलब है कि नेतन्याहू जहां अपने चार दिवसीय भारतीय दौरे की तैयारियों में जुटे हैं वहीं सूत्रों ने इस बात की पुष्टि की है कि जीप ‘‘वास्तव में’’ भारत के लिये रवाना भी हो चुकी है और इस्राइली प्रधानमंत्री द्वारा मोदी को तोहफे में दिये जाने के लिये समय पर भारत पहुँच जाएगी. हालंकि तोहफे की कोई कीमत नहीं होती वो अनमोल होता है लेकिन बताया जा रहा है इस कि जीप की कीमत करीब 3.9 लाख शेकेल यानी करीब 70 लाख रूपये है.

बहरहाल इतना साफ़ है कि मोदी की विदेश नीति में इस्राइल एक ख़ास स्थान रखता है और वहां के मुखिया उनके अच्छे दोस्त भी हैं. यानी व्यापार के साथ-साथ जहाँ निजी सम्बन्धों को भी प्राथमिकता दी जाए तो अंजाम कुछ अलग ही होता है. जब मोदी इस्राइल गये थे तो किस तरह से इस्राइल ने उनकी मेजबानी की थी उसका नज़ारा पूरी दुनिया ने देखा था. अब बारी मोदी की है, देखते हैं कि वो अपने इस दोस्त के लिए क्या कुछ नया करते हैं.(इनपुट:भाषा)

Rate this item
(0 votes)